*नीमच। अचारी रोड स्थित मंडी व्यापारी की फर्म संदीप प्रोडक्ट के काले कारोबार बार आंच नही आ रही हैं।  बात दे कि संदीप प्रोडक्ट के नाम से संचालित होने वाले गोदाम पर मंडी कारोबार की आड़ में जहरीला कारोबार बेखोफ पनप रहा है। कृषि मंडी से निम्न स्तर का धनियां ख़रीकर उसे चकाचक बनाने के लिए संदीप प्रोडक्ट फर्म का संचालक किसी भी हद तक जाने को तैयार है। अचारी रोड स्थित गोदाम पर अवैध भट्टियां संचालित होती है। जहाँ उन अवैध भट्टियों में सल्फर जैसे हानिकारक केमिकल का उपयोग धनिया उपज को चकाचक बनाने के लिए हो रहा है। वही बताया जा रहा है कि संदीप प्रोडक्ट पर काम करने वाले मजदूरों की जान पर भी खतरा मंडरा रहा है। जिस भट्टी में धनियां को चकाचक बनाया जाता है उस भट्टी में हानिकारक केमिकल होता है मजदूर अपनी जान जोखिम में डाल कर संदीप प्रोडक्ट संचालक के लिए भट्टियो में माल तैयार कर रहे है। कभी भी कोई जनहानि या अप्रिय घटना घटने का संदेह बना हुआ है।*

*बीते 5 माह पूर्व भी संदीप प्रोडक्ट  फर्म खाद्य एवं औषधि विभाग ने कार्रवाई को अंजाम दिया था, जिसमे कार्रवाई से पूर्व ही फर्म के संचालक को भनक लग गई, ओर अवैध भट्टियों पर पर्दा डाल दिया।  वर्तमान में खबर मिली है कि संदीप प्रोडक्ट फिर से अपने काले कारोबार को बेखोफ संचालित कर रहा है। धनिया पोलिश, अवैध भट्टी ओर हानिकारक केमिकलों का इस्तेमाल कर धनिया उपज को जहरीला बना रहा है। फिर वही जहरीली उपज आमजन का निवाला बन रही है। जबकि पूर्व में कई बार ऐसे खुलासे हो चुके है जिसमे ऐसे मिलावटखोर कारोबारियों के वेस्टेज मटेरियल का सेवन करके पशु हत्याएं हो चुकी है। पिछले एक साल पहले बघाना के रेल्वे स्टेशन समीप हुआ मामला इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है।*

*देखने वाली बात अब यह है कि संदीप प्रोडक्ट का संचालक जो बीते 15 सालों से अवेध भट्टियो को संचालित करता आ रहा है, अब उस पर ईमानदार कलेक्टर राजीव रंजन मीणा की नजरे इनायत होती है या नही।*


*इनका कहना*

*पूर्व में भी संदीप प्रोडक्ट पर कार्रवाई हो चुकी है, अगर सूचना मिलते है कार्रवाई की जाएगी।*

*खाद्य एवं औषधि विभाग अधिकारी- सचिन लोहरिया*


*फर्म संचालक से पूछे हुवे सवालो पर वे चुप्पी साधे हुवे थे, उन्होंने कहा किसी ओर से इस बारे में बात कर लो।*

*फर्म संचालक- आदित्य मोता*

Post a Comment