छोटी सादड़ी। स्थानीय हरीष आंजना महाविद्यालय में 70वाॅ गणतंत्र दिवस समारोह बड़ें हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। मुख्य अतिथि श्रीमान् पुरण जी आंजना,डायरेक्टर चेतक इन्टरप्राइजेज प्रा.लि. द्वारा ध्वजारोहण किया गया। कार्यक्रम के अध्यक्ष एकेडमिक डारेक्टर जगन्नाथ सोलंकी थे। महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने परेड़ द्वारा राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। कार्यक्रम का आगाज दीप प्रज्जवलन से हुआ।

इस अवसर पर महाविद्यालय प्राचार्य डाॅं0 दीपक मण्डेला ने स्वागत उद्बोधन में विद्यार्थियों से अपने कर्तव्य को ईमानदारी से निभाने का संकल्प दिलाया तथा युवा पीढ़ी को राष्ट्र के निर्माण के लिए प्रेरित किया।

मुख्यअतिथि श्रीमान् पुरण जी आंजना नें अपनें उद्बोधन में कहा कि विश्व के सबसे बडे सविधान के निर्माता डांॅ0 भीमराव अम्बेडकर के त्याग,समर्पण से ही भारत के संविधान का निर्माण हुआ। संविधान का व्यापक अर्थ नियम,कानून और अनुषासन हैं।

सांस्कृतिक कार्यक्रम के अन्तर्गत एकलगीत अंजली, कविता पाठ-माया प्रजापत, एकलनृत्य ऋषभ खींची (वन्दे मातरम्),समूहनृत्य मुस्कान एण्ड़ गु्रप (पैरोडी), समूहनृत्य- ऋषभ खींची एण्ड़ ग्रुप (पैराड़ी), एकल नृत्य कुसुम कुवंर (देष रंगीला - रगीला)ने आदि  मनमोहक प्रस्तुतिया दी। 

 एकेडमिक डारेक्टर श्रीमान् जगन्नाथ सोलंकी ने आभार प्रकट करते हुए कहा की अपने छात्र,परिवार,समाज के नागरिकों को अनुषासन मे रह कर देष के निर्माण में महती सहभागिता निभानी चाहिए। कानून व्यवस्था एवम् पंचवर्षिय योजनाओं के सफल क्रियान्वयन  से देष नित नये आयाम को छू रहा है।

इस अवसर पर अमृतलाल बण्डी,शोभालाल जी आंजना, ओम प्रकाष शर्मा, नरेन्द्र राव मराठा, कैलाष शर्मा,अजय कुमार यादव, अरविन्द नाहर, भरत खटीक,महेष जायसवाल, कन्हैया लाल, देवीलाल, अरविन्द यादव, सुनिल नागोरी,गणपत शर्मा,हितेष बुनकर, राहूल जोषी, सुश्री नसरीन आरा, भगवान कामड़,इमरान मोहम्मद, मनीष वैरागी,गोविन्द रजक, मोहम्मद हुसैन नितेष मीणा, चोथमल, सुरेष मीणा एवं संचालन  डाॅ कृष्णा पेन्सिया ने किया।     

                                                                                                            


Post a Comment