पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्या मामले में हत्‍या के आरोपी डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और अन्‍य आरोपियों को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए सजा सुनाई जाएगी। सीबीआई कोर्ट ने हरियाणा सरकार को राहत देते हुए 17 जनवरी को सजा सुनाने का फैसला किया है।


हरियाणा सरकार की ओर से डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी ने सुरक्षा व्‍यवस्‍था और मामले की संवेदनशीलता के चलते विशेष सीबीआई अदालत से वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए सजा सुनाने के लिए याचिका दायर की थी। जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया। ऐसे में 17 जनवरी को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के आरोपी गुरमीत राम रहीम, कृष्ण लाल, निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को पंचकूला की सीबीआई कोर्ट में प्रत्यक्ष रूप से पेश नहीं किया जाएगा।


बात दें कि 11 जनवरी को पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई कोर्ट ने सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम, कृष्ण लाल, निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को दोषी करार दिया था। आरोपी कृष्ण लाल और निर्मल सिंह को 1959 आर्म्स एक्ट के सेक्शन 29 के तहत भी दोषी करार दिया गया।

Post a Comment