नीमच.मीजल्स रूबैला टीकाकरण से हुई मासूम पीयुष माैर्य की मौत को लेकर यादव समाज ने आक्रोश व्यक्त करते हुए निष्पक्ष जांच और उचित मुआवजे की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन एसडीएम क्षितिज शर्मा को सौंपा। इस ज्ञापन में कास्मो पब्लिक स्कूल की लापरवाही, स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी और मीजल्स रूबेला टीका बनाने वाली कंपनी पर सख्त कार्यवाही करने की मांग की गई। साथ ही मुख्यमंत्री सहायता नििध से पीड़ित परिजनों को दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की भी मांग ज्ञापन में प्रेषित की गई। ज्ञापन यादव महासभा अध्यक्ष सुनील अंब की अध्यक्षता में दिया गया। ज्ञापन का वाचन यादव महासभा के महासचिव राकेश सोन ने किया। श्री सोन ने कहा टीका लगने से पूर्व पीयुष हष्टपुष्ट और पूरी तरह स्वस्थ्य था। टीका लगने के बाद ही उसकी तबियत खराब हुई और वह बीमार रहने लगा। निजी अस्पतलों में जब उसका उपचार ठीक नहीं हो पाया तब भी स्वास्थ्य विभाग ने ध्यान नहीं दिया। स्कूल प्रबंधन ने बिना की जांच के बच्चे को टीका लगवा दिया। एक गरीब परिवार ने अपने मासूम बेटे को खोया है। प्रशासन पूरे मामले की जांच करे और गरीब परिवार को मुख्यमंत्री सहायता निधि से दस लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान करे। मासूम पीयुष मौर्य के पिता विमल मौर्य ने कहा मेरा बेटा पूरी तरह से स्वस्थ्य था। वह टीकाकरण के बाद ही बीमार पड़ा और उसकी मौत हो गई। इसके लिए कास्मो पब्लिक स्कूल प्रबंधन तो जिम्मेदार है ही, साथ ही स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। टीका लगाने वाली कंपनी पर भी कार्यवाही जाए। मेरा बेटा टीका लगने के बाद से ही बीमार पड़ा और उसकी मौत हुइ है।  इस अवसर पर यादव समाज के प्रतिनिधि मंडल ने पीयुष के परिजनों के साथ कलेक्टर राजीव रंजन मीणा से भी मुलाकात की। कलेक्टर श्री मीणा ने समाजजनों को अाश्वस्त किया पूरे मामले की निष्पक्ष जंाच की जाएगी और मुख्यमंत्री सहायता निधि का प्रकरण बनाकर भोपाल भेजा जाएगा। कलेक्टर श्री मीणा ने कहा अगर जांच में टीकाकरण के साइड इफैक्ट की बात सामने आती तो टीका बनाने वाली कंपनी को भी नोटिस जारी कर कार्यवाही करेंगे। इस अवसर पर यादव महासभा के अध्यक्ष सुनील अंब,  मनोहर अंब, दरबारी लाल राजोरा,मंगल मौर्य, ब्रजमोहन कर्णिक, शेखर व्यास, अशोक सागर, रीतेश जंयत, राजेश सिन्हा, संजय सलोना, गजेंद्र यादव,रूपेंद्र लोक्स, राजेंद्र गोयल सहित बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे।

Post a Comment