नीमच। अचारी रोड़ स्थित आदित्य मोता की फर्म संदीप ट्रेडिंग पर वर्षो से जहरीला कारोबार पनप रहा है और साथ मंडी कर चौरी का भी बड़ा खेल संचालक द्वारा खेला जाता है। यहा मतलब साफ है कि शासन से कर चौरी मतलब देश के साथ गद्दारी। बिना बिल बिल्टी ओर अनुज्ञा पत्र के बेख़ौफ़ अवैध परिवहन को बढ़ावा देने में आदित्य मोता पीछे नही है।

बता दे कि करीब 10 वर्षो से दीपक मोता अचारी रोड़ स्थित अवैध भट्टीयो के माध्यम से धनिया उपज पर कलर चढ़ाने का गौरखधंधा संचालित करता आ रहा है। जिसकी खबर सबको है, लेकिन कार्रवाई का कोई नामो निशान नही है। अवैध भट्टीयो में सल्फर जैसे हानिकारक कैमिकल से मौता कृषि उपज को चकाचक बनाने की भूमिका अदा करता है। वही बताया जाता है कि इन अवैध बंद भट्टीयो में काम करने वाले मजदूरो की जान भी खतरे में बनी रहती है। भट्टीयों में इतना खतरनाक जहरीला धुंआ रहता है कि किसी की भी जान ले सकता है और आदित्य के मजदूर उसी भट्टीयो में बेखौफ संचालित कर खाद्य उपज को जहरीली बनाते है। आदित्य मौता द्वारा पहले तो कृषि मंडी से निम्न स्तर की धनिया उपज खरीदी जाती है और फिर उस निम्न स्तर की उपज को चकाचक बनाने के लिए अवैध भट्टीयो के माध्यम से हानिकारक कैमिकलो की पॉलिश चढाई जाती है और फिर उस जहरीली उपज को प्रदेश ही नही बल्कि आस- पास के अन्य प्रांतो तक सप्लाय किया जाता है। जिसके सैवन से आमजन के स्वास्थ्य पर खतरा बना हुआ है। ऐसे में नवागत ईमानदार कलेक्टर को इस और ध्यान देने की आवश्यकता है।

इनका कहना- पूर्व में भी सूचना मिलने पर कार्यवाही की जा चुकी हैं । सेंपल अमानक पाया गया था ।यदि इस तरह का कृत्य व्यपारी द्वारा किया जा रहा है तो जल्दी ही कार्यवाही की जावेगी ।

खाद्य एवं औषधि अधिकारी, राजू सोलंकी

इस विषय मे पूर्व में जब मंडी व्यापारी मोता से बात की गई तो उन्होंने दो टूक जवाब में कह दिया कि छाप दो तुम्हे जो छापना है।

Post a Comment