नीमच । 2003 में  भय भूख न भ्रस्टाचार हम देंगे अच्छी सरकार का  नारा देने वाली भाजपा का 15 साल का कुसासन जनता ने देखकर 2018 में कांग्रेस को सत्तारूढ़ किया की कुछ परिवर्तन होगा व्यवस्थाये बदलेंगी लेकिन कांग्रेस के सत्तारूढ़ होते ही उन व्वयवस्थाओ में कोई परिवर्तन नहीं हुआ और शिवराज सरकार की तर्ज पर ही वही वयवस्थाए कमलनाथ सरकार में भी निरंतर निर्बाध रूप से संचालित हो रही  है / और इसका सबसे प्रमाणित उदहारण नयागाव परिवहन चेकपोस्ट के साथ ही प्रदेश की अन्य 39 जाँच चौकियों पर प्रतिदिन गरीब ट्रक ड्राइवर साथियो के साथ  होने वाली 80 करोड़ रूपये की राजनेताओ एवं प्रशासनिक अधिकारियो के संरक्षण में होने वाली खुलेआम डकैती है, इस सम्बन्ध में सप्रमाण विडिओग्राफी कर आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एवं लोकसभ प्रभारी नवीन कुमार अग्रवाल ने प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर आरोप लगाया है और साथ ही प्रदेश के अधिकारियो एवं राजनेताओ से पूछना चाहा है की क्या कारन है की पिचले कुछ दिनी से प्रचलित डकैती से ज्यादा डकैती चेकपोस्ट पर की जा रही है क्या ज्ञात सूत्रों अनुसार उसका सम्बन्ध 8 फरवरी को भोपाल में हो रही राहुल गाँधी की आमसभा में क्षेत्र से बसे ले जाने से है ?


खुलेआम डकैती 

आप के नवीन कुमार अग्रवाल ने कहा की नयागाव चेकपोस्ट पर हो रही खुलेआम डकैती के खिलाफ हम लगातार 2013 से संगर्ष कर रहे है और उसके परिणाम स्वरुप कुछ समय के लिए डकैती बंद सी हो गई थी लेकिन पुनः चुनाव आते ही जो खुलेआम डकैती चालू हुई थी वो पुनः बंद होने का नाम नहीं ले रही है / यह जरूर है की हमारे लगातार संगर्ष  के चलते जो पहले सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में चेकपोस्टों पर स्टिकर लगाए जाते थे वो संगर्ष के चलते 2016 से बंद हो गए है जिससे वाहन चालकों को क्षणिक राहत मिली है लेकिन अब प्रति चक्कर वाहन चालकों से डकैती की जा रही है / और इस डकैती के खिलाफ जब हम प्रशासनिक अधिकारियो एवं परिवहन मंत्री गोविंदसिंह राजपूत से बात करते है तो एक ही जवाब आता है की हम दिखवाते है वही पर लोकायुक्त को शिकायत करने पर वो भी हाथ खड़े कर लेती है / और सभी हमें सलाह देती है की इन चेकपोस्टों पर हो रही डकैती का सम्बन्ध दिल्ली तक है आप कभी मार  दिए जावोगे इस संघर्ष  को ख़त्म कर दो ,या अन्य राजनेताओ के तरह समझौता कर लो इसी में आपकी भलाई है /


हाँ मुझसे की डकैती 

में हरियाणा से अपना वाहन लेकर जब चला तो सम्पूर्ण देश में जगह जगह परिवहन विभाग के डकैत जगह जगह  रास्ते के खड़े मिले और किसी ने 100 रूपया तो किसी ने 400 रूपये तक हमसे बन्दुक की नोक पर कारवाही का डर  बताकर  ले लिए / और अभी नयागाव तक में 1000 रूपये इन डकेतो को दे चूका हु / आज जैसे ही में नयागाव बॉर्डर पर आया मुझसे कांटे पर 60 रूपये लेकर ओके की कम्प्यूटरीकृत रसीद दी और मुझे परिवहन विभाग की खिड़की पर जाने को बोला / में जैसे ही खिड़की पर गया वहा मुझसे 400 रूपये मांगे /मैंने कहा की मेरी गाड़ी तो 6 चक्का है और में हमेश 200 रूपये ही देता हु तो 400 क्यो मांग रहे हो / तो उन्होंने कहा की अभी तो यही लगेंगे नहीं तो गाड़ी खड़ी  कर दे / मैंने डरकर 400 रूपये दिए तो उसने पर्ची पर सील लगा दी और एक दूसरी पर्ची पर 3 (300 रूपये )  लिखकर दे दी जो पर्ची अगले बाहरी गेट पर देखकर उन्होंने ले ली और मुझे गेट से बहार जाने दिया / यह सरकारो की खुलेआम डकैती है इसे बंद होना चाहिए /

रविंद्र जाट ,पीड़ित वाहन चालक। हरियाणा 


राहुल गाँधी की सभा है अतिरिक्त रुपया लगेगा 

एक ट्रक ड्राइवर ने नाम न छापने की शर्त पर बताया की जब हम प्रचलित डकैती का पैसा  दे रहे थे तो उनके द्वार अतिरिक्त पैसा  लिया जा रह था जब हम बहस करने लगे तो उन्होंने जल्लाकर कहा की राहुल गाँधी की सभा  है वहा बसे  क्या हमारी जैब से भेंजेगे, नहीं देना हो तो गाड़ी खड़ी  दो , अभी तो अतिरिक्त पैसा देना होगा /

पीड़ित वाहन चालक ,राजस्थान 


डकैती में भी डकैती 

आप के नवीन कुमार अग्रवाल ने कहा की अब तो चेकपोस्टों पर चेले भी डकैती मे भी डकैती करने लगे है और इसी कारन से वाहन चालक से 400 रूपये लेकर गेट की पर्ची पर 3 लिखकर अर्थात 300 रूपये लिए यह प्रमाणित अपने उच्च अधिकारियो को कर दिया / और इस प्रकार से खुलेआम डकैती करना यह सिद्ध करता है की देश भक्ति की भावना सिर्फ जनता को बरगलाने के लिए मंचो के माध्यम से नेता लोग करते है और देशद्रोही का काम करने वाले अधिकारियो को संरक्षण प्रदान करते है ,यह इन चेकपोस्टों से स्वतः ही सिद्ध होता है / साथ ही  यह बड़ा विचारणीय प्रसन है की राहुल गाँधी की सभा के लिए जो  बसे भेजी जा रही है उसका दबाव कांग्रेस पार्टी के ऊपर न होकर परिवहन चेकपोस्ट पर है जिसके कारन प्रचलित डकैती से अतिरिक्त डकैती की जा रही है / क्या इसी कारन से जनता ने कांग्रेस को सत्ता का स्वाद दिया है ?

Post a Comment