जयपुर।

पहले मिग-21 से पाकिस्तानी एफ-16 को मार गिराना... फिर पाकिस्तान से गर्व के साथ वापसी करना...। इसे लेकर जयपुर के युवा अपने जांबाज विंग कमांडर अभिनन्दन का अब खास अन्दाज में ‘अभिनन्दन’ कर रहे हैं। शहर में हेयर आर्टिस्ट के यहां ऐसे युवाओं का तांता लग रहा है, जो अपनी मूंछों को नया और खास लुक देना चाहते हैं। युवाओं ने मंूछों की इस नई स्टाइल का नाम रखा है... अभिनन्दन कट।

बता दें कि पाक के एफ-16 विमान को मार गिराने वाले भारत के शूरवीर विंग कमांडर ‘अभिनंदन‘ पाकिस्तान के अधिकृत कशमीर में पहुंच गए थे। उनका मिग 21 क्रेश हुआ तब वे पैराशूट की सहायता से पाकिस्तान में पहुंच गए। वहां भी उन्होंने अपनी बुद्धिमानी और वीरता का परिचय दिया और पाकिस्तानी नागरिकों की एक भी नहीं चलने दी। पाकिस्तान की कैद में भी उन्होंने अपना धैर्य नहीं खोया और दुश्मनों को देश के बारे में कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। पाकिस्तान को नतमस्तक करते हुए अभिनंदन शुक्रवार रात करीब 60 घंटे बाद वतन लौट आए है। अभिनंदन की घर वापसी से राजस्थान सहित पूरे देश में खुशी का माहौल है।

अपने शुरुआती दिन राजस्थान में बिताने वाले अभिनंदन को अटारी सीमा से पहले अमृतसर लाया गया, जहां से वह वायुसेना के विमान से देर रात दिल्ली लाए गए। पाक ने अभिनंदन को लौटाने के लिए दो बार वक्त बदला। पाक के एफ-16 विमान को मार गिराने के दौरान अभिनंदन का जेट मिग-21 पाक सीमा में गिर गया था। अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते पाक को झुकना पड़ा और प्रधानमंत्री इमरान खान को असेंबली में अभिनंदन को लौटाने का ऐलान करना पड़ा। पाक जहां अपनी पहल को शांति की दिशा में उठाया गया कदम बता रहा है तो वहीं भारत ने इसका कारण जेनेवा समझौते को बताया। 38 साल के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का राजस्थान से भी गहरा नाता रहा है। अभिनंदन की शुरुआती परवरिश उनके पिता के साथ जोधपुर में ही हुई थी। अभिनंदन बीकानेर में भी तीन साल तक रहे हैं।

Post a Comment