जावद। जावद विधायक ओमप्रकाश सखलेचा बेटी त्रिशा सखलेचा द्वारा लिखी गई *your truth or mine* (आपका सत्य या मेरा) पुस्तक अब भारत में भी मिलेगी। 9 अगस्त से पुस्तक भारत में उपलब्ध हो गई है। 
त्रिशा सखलेचा ने भारतीय प्रवासियों के विवाह टूटने के कारणो को उपन्यास लिखा है। विश्वभर में ख्यात संस्था पेन मेक्मिलन ने 14 जून को लंदन में इस पुस्तक का िवमोचन किया था। िवमोचन िवधायक सखलेचा की उपिस्थति में हुआ था। ित्रशा सखलेचा द्वारा िलखा 448 पेज की *your truth or mine* (आपका सत्य या मेरा) का यह उपन्यास परिवार के बीच रिश्तों को लेकर लिखा गया है। पुस्तक को भारतीय समुदाय ने विषय को काफी पसंद किया, इसमें राजस्थान का भी जिक्र है*त्रिशा ने कहा उपन्यास ‘यूअर ट्रूथ ऑर माइन’ (आपका सत्य या मेरा) उपन्यास  हर परिवार के इर्द-गिर्द की है और परिवार के बीच रिश्तों को लेकर लिखी है। जिसमें बनते-बिगड़ते, सुधरते रिश्तों का भी जिक्र है। परिवार को समय, एक दूसरे को प्रेम, दोनों पक्षों की सोच, पुलिस की भूमिका जैसे सभी बिंदुओं का वर्णन किया है। एमपी के जावद नगर से लगे राजस्थानी हिस्से का भी जिक्र किया है।

Post a Comment